5 Best Hindi Novels for Beginners

5 Best Hindi Novels for Beginners

Thinking of starting to read Hindi novels? Here’s a list of the 5 best fiction novels that are easy, enjoyable, sometimes sad, and informative.

1) Musafir Cafe by Divya Prakash Dubey

हम सभी की जिंदगी में एक लिस्ट होती है। हमारे सपनों की लिस्ट, छोटी-मोटी खुशियों की लिस्ट। सुधा की जिंदगी में भी एक ऐसी ही लिस्ट थी। हम सभी अपनी सपनों की लिस्ट को पूरा करते-करते लाइफ गुज़ार देते हैं। जब सुधा अपनी लिस्ट पूरी करते हुए लाइफ़ की तरफ़ पहुँच रही थी तब तक चंदर 30 साल का होने तक वो सबकुछ कर चुका था जो कर लेना चाहिए था। तीन बार प्यार कर चुका था, एक बार वो सच्चा वाला, एक बार टाइम पास वाला और एक बार लिव-इन वाला। वो एक पर्फेक्ट लाइफ चाहता था। मुसाफिर Cafe कहानी है सुधा की, चंदर की, उन सारे लोगों की जो अपनी विश लिस्ट पूरी करते हुए perfect लाइफ खोजने के लिए भटक रहे हैं।

Musafir Cafe by Divya Prakash Dubey

1) Musafir Cafe by Divya Prakash Dubey

Musafir Cafe by Divya Prakash Dubey
हम सभी की जिंदगी में एक लिस्ट
होती है। हमारे सपनों की लिस्ट,
छोटी-मोटी खुशियों की लिस्ट। सुधा की जिंदगी में भी एक ऐसी ही लिस्ट थी। हम सभी अपनी सपनों की लिस्ट को पूरा करते-करते लाइफ गुज़ार देते हैं। जब सुधा अपनी लिस्ट पूरी करते हुए लाइफ़ की तरफ़ पहुँच रही थी तब तक चंदर 30 साल का होने तक वो सबकुछ कर चुका था जो कर लेना चाहिए था। तीन बार प्यार कर चुका था, एक बार वो सच्चा वाला, एक बार टाइम पास वाला और एक बार लिव-इन वाला। वो एक पर्फेक्ट लाइफ चाहता था। मुसाफिर Cafe कहानी है सुधा की, चंदर की, उन सारे लोगों की जो अपनी विश लिस्ट पूरी करते हुए perfect लाइफ खोजने के लिए भटक रहे हैं।

2) Banaras Talkies by Satya Vyas

बनारस टॉकीज को विश्वविद्यालयीय जीवन का सिलेबस कह सकते हैं। होस्टल दिनचर्या का रोजनामचा है-बनारस टॉकीज़। शैक्षिक जीवन के संभवतः हर पहलू को समाहित करता यह उपन्यास दिल, दोस्ती और धोखे की कहानी बयान करता है। कथन की रोचकता और कथ्य की सरसता पाठक को एक चलचित्र का भाव प्रदान करती है।छात्रो के कहकहों में डूबी ये कहानी एक बम ब्लास्ट का ताना बाना भी बुनती जाती है। बनारस हिन्दू विश्वविद्यालय (BHU) के प्रांगण की यह कहानी दरअसल सभी विश्विद्यालयों की कहानी है; सभी छात्रों की कहानी है।आपकी कहानी है।

Banaras Talkies by Satya Vyas

2) Banaras Talkies by Satya Vyas

Banaras Talkies by Satya Vyas
बनारस टॉकीज को
विश्वविद्यालयीय जीवन का सिलेबस कह सकते हैं। होस्टल दिनचर्या का रोजनामचा है-बनारस टॉकीज़। शैक्षिक जीवन के संभवतः हर पहलू को समाहित करता यह उपन्यास दिल, दोस्ती और धोखे की कहानी बयान करता है। कथन की रोचकता और कथ्य की सरसता पाठक को एक चलचित्र का भाव प्रदान करती है।छात्रो के कहकहों में डूबी ये कहानी एक बम ब्लास्ट का ताना बाना भी बुनती जाती है। बनारस हिन्दू विश्वविद्यालय (BHU) के प्रांगण की यह कहानी दरअसल सभी विश्विद्यालयों की कहानी है; सभी छात्रों की कहानी है।आपकी कहानी है।

3) Dopehri by Pankaj Kapur

Amma Bi is an elderly widow who lives alone in her deserted Lucknow haveli. Every afternoon, at precisely 3 o’clock, she hears the sound of unknown footsteps. Every afternoon, she peeks out … but no one is there. In a state of growing panic, Amma Bi considers moving to an old people’s home, before finally taking in a lodger — a winsome young woman named Sabiha. Her arrival fills Amma Bi’s lonely world with love and laughter, and Jumman, the household help, is transformed as well. When Sabiha finds herself in trouble, Amma Bi must draw on hidden reserves of skill and empathy in order to resolve the situation… Dopehri — legendary film and theatre personality Pankaj Kapur’s first novel — is a wonderfully evocative work of great charm, wry humour and quiet power, a story that readers will fall in love with.

Dopehri by Pankaj Kapur

3) Dopehri by Pankaj Kapur

Dopehri by Pankaj Kapur

Amma Bi is an elderly

widow who lives alone in

her deserted Lucknow haveli. Every afternoon, at precisely 3 o’clock, she hears the sound of unknown footsteps. Every afternoon, she peeks out … but no one is there. In a state of growing panic, Amma Bi considers moving to an old people’s home, before finally taking in a lodger — a winsome young woman named Sabiha. Her arrival fills Amma Bi’s lonely world with love and laughter, and Jumman, the household help, is transformed as well. When Sabiha finds herself in trouble, Amma Bi must draw on hidden reserves of skill and empathy in order to resolve the situation… Dopehri — legendary film and theatre personality Pankaj Kapur’s first novel — is a wonderfully evocative work of great charm, wry humour and quiet power, a story that readers will fall in love with.

4) Dark Horse by Nilotpal Mrinal

‘डार्क हॉर्स’ 21वीं सदी की सर्वाधिक लोकप्रिय हिंदी किताब है। सिविल सर्विसेस परीक्षा की हिंदी माध्यम से तैयारी करने वाले अभ्यर्थियों के जीवन की ऐसी जीवंत झाँकी इससे पहले किसी और किताब में देखने को नहीं मिली। देश की सर्वोच्च सम्मानित परीक्षा की तैयार करने वाला अभ्यर्थी केवल एक पढ़ने वाला जीव नहीं होता बल्कि दैनिक जीवन के क़िस्म-क़िस्म के संघर्षों से भी दो-चार होता है। यह उसी जीवन की कथा-व्यथा है। अपने गाँव-क़स्बों से बाहर निकलकर शहरी जीवन के साथ चालबद्ध होने का जो चित्रण मुखर्जी नगर की पृष्ठभूमि में रची इस कथा में है, वह अपूर्व है। पाठकीय लोकप्रियता के सम्मान के अलावा इस उपन्यास को साल 2015 का साहित्य अकादमी युवा पुरस्कार भी मिल चुका है। यह इस किताब का संपादित और परिष्कृत संस्करण है।

Dark Horse by Nilotpal Mrinal

4) Dark Horse by Nilotpal Mrinal

Dark Horse by Nilotpal Mrinal
‘डार्क हॉर्स’ 21वीं सदी की सर्वाधिक
लोकप्रिय हिंदी किताब है। सिविल
सर्विसेस परीक्षा की हिंदी माध्यम से तैयारी करने वाले अभ्यर्थियों के जीवन की ऐसी जीवंत झाँकी इससे पहले किसी और किताब में देखने को नहीं मिली। देश की सर्वोच्च सम्मानित परीक्षा की तैयार करने वाला अभ्यर्थी केवल एक पढ़ने वाला जीव नहीं होता बल्कि दैनिक जीवन के क़िस्म-क़िस्म के संघर्षों से भी दो-चार होता है। यह उसी जीवन की कथा-व्यथा है। अपने गाँव-क़स्बों से बाहर निकलकर शहरी जीवन के साथ चालबद्ध होने का जो चित्रण मुखर्जी नगर की पृष्ठभूमि में रची इस कथा में है, वह अपूर्व है। पाठकीय लोकप्रियता के सम्मान के अलावा इस उपन्यास को साल 2015 का साहित्य अकादमी युवा पुरस्कार भी मिल चुका है। यह इस किताब का संपादित और परिष्कृत संस्करण है।

5) Ibnebatuti by Divya Prakash Dubey

होता तो यह है कि बच्चे जब बड़े हो जाते है तो उनके माँ-बाप उनकी शादी कराते हैं लेकिन इस कहानी में थोड़ा-सा उल्टा है, या यूँ कह लीजिए कि पूरी कहानी ही उल्टी है। राघव अवस्थी के मन में एक बार एक उड़ता हुआ ख़याल आया कि अपनी सिंगल मम्मी के लिए एक बढ़िया-सा टिकाऊ बॉयफ्रेंड या पति खोजा जाए। राघव को यह काम जितना आसान लग रहा था, असल में वह उतना ही मुश्किल निकला। इब्नेबतूती आज की कहानी होते हुए भी एक खोए हुए, ठहरे हुए समय की कहानी है। एक लापता हुए रिश्ते की कहानी है। कुछ सुंदर शब्द कभी किसी शब्दकोश में जगह नहीं बना पाते। कुछ सुंदर लोग किसी कहानी का हिस्सा नहीं हो पाते। कुछ बातें किसी जगह दर्ज नहीं हो पातीं। कुछ रास्ते मंज़िल नहीं हो पाते। इब्नेबतूती-उन सभी अधूरी चीज़ों, चिट्ठियों, बातों, मुलाक़ातों, भावनाओं, विचारों, लोगों की कहानी है।

Ibnebatuti by Divya Prakash Dubey

5) Ibnebatuti by Divya Prakash Dubey

Ibnebatuti by Divya Prakash Dubey

होता तो यह है कि बच्चे जब बड़े हो

जाते है तो उनके माँ-बाप उनकी

शादी कराते हैं लेकिन इस कहानी में थोड़ा-सा उल्टा है, या यूँ कह लीजिए कि पूरी कहानी ही उल्टी है। राघव अवस्थी के मन में एक बार एक उड़ता हुआ ख़याल आया कि अपनी सिंगल मम्मी के लिए एक बढ़िया-सा टिकाऊ बॉयफ्रेंड या पति खोजा जाए। राघव को यह काम जितना आसान लग रहा था, असल में वह उतना ही मुश्किल निकला। इब्नेबतूती आज की कहानी होते हुए भी एक खोए हुए, ठहरे हुए समय की कहानी है। एक लापता हुए रिश्ते की कहानी है। कुछ सुंदर शब्द कभी किसी शब्दकोश में जगह नहीं बना पाते। कुछ सुंदर लोग किसी कहानी का हिस्सा नहीं हो पाते। कुछ बातें किसी जगह दर्ज नहीं हो पातीं। कुछ रास्ते मंज़िल नहीं हो पाते। इब्नेबतूती-उन सभी अधूरी चीज़ों, चिट्ठियों, बातों, मुलाक़ातों, भावनाओं, विचारों, लोगों की कहानी है।

घर में जितनी किताबें,
घर में उतने घर।

Contact

iamkitabikeeda@gmail.com

Copyright @2024 – KitabiKeeda, Developed With ❤ by YourWerbung